Saturday , December 5 2020

Milan Ki Saat Ko Is Tarah Se Amar Kiya Hai..

Milan ki saat ko is tarah se amar kiya hai,
Tumhari yaadon ke saath tanha safar kiya hai.

Suna hai us rut ko dekh kar tum bhi ro pade the,
Suna hai barish ne pattharon par asar kiya hai.

Salib ka bar bhi uthao tamam jiwan,
Ye lab-kushai ka jurm tum ne agar kiya hai.

Tumhein khabar thi haqiqaten talkh hain jabhi to,
Tumhari aankhon ne khwab ko mo’atabar kiya hai.

Ghutan badhi hai to phir usi ko sadayen di hain,
Ki jis hawa ne har ek shajar be-samar kiya hai.

Hai tere andar basi hui ek aur duniya,
Magar kabhi tu ne itna lamba safar kiya hai.

Mere hi dam se to raunaqen tere shehar mein thin,
Mere hi qadmon ne dasht ko rah-guzar kiya hai.

Tujhe khabar kya mere labon ki khamoshiyon ne,
Tere fasane ko kis qadar mukhtasar kiya hai.

Bahut si aankhon mein tirgi ghar bana chuki hai,
bahut si aankhon ne intezaar-e-sahar kiya hai. !!

मिलन की साअत को इस तरह से अमर किया है,
तुम्हारी यादों के साथ तन्हा सफ़र किया है !

सुना है उस रुत को देख कर तुम भी रो पड़े थे,
सुना है बारिश ने पत्थरों पर असर किया है !

सलीब का बार भी उठाओ तमाम जीवन,
ये लब-कुशाई का जुर्म तुम ने अगर किया है !

तुम्हें ख़बर थी हक़ीक़तें तल्ख़ हैं जभी तो,
तुम्हारी आँखों ने ख़्वाब को मोतबर किया है !

घुटन बढ़ी है तो फिर उसी को सदाएँ दी हैं,
कि जिस हवा ने हर इक शजर बे-समर किया है !

है तेरे अंदर बसी हुई एक और दुनिया,
मगर कभी तूने इतना लम्बा सफ़र किया है !

मेरे ही दम से तो रौनक़ें तेरे शहर में थीं,
मेरे ही क़दमों ने दश्त को रह-गुज़र किया है !

तुझे ख़बर क्या मेरे लबों की ख़मोशियों ने,
तेरे फ़साने को किस क़दर मुख़्तसर किया है !

बहुत सी आँखों में तीरगी घर बना चुकी है,
बहुत सी आँखों ने इंतज़ार-ए-सहर किया है !!

-Aanis Moin Ghazal / Poetry

 

About skpoetry

>> Sk Poetry - All The Best Poetry Website In Hindi, Urdu & English. Here You Can Find All Type Best, Famous, Memorable, Popular & Evergreen Collections Of Poems/Poetry, Shayari, Ghazals, Nazms, Sms, Whatsapp-Status & Quotes By The Top Poets From India, Pakistan, Iran, UAE & Arab Countries ETC. <<

Read These Poems Too..

Nazm Uljhi Hui Hai Seene Mein..

Nazm Uljhi Hui Hai Seene Mein.. Gulzar Nazm ! Nazm uljhi hui hai seene mein …

Kis Qadar Sidha Sahal Saf Hai Rasta Dekho..

Kis Qadar Sidha Sahal Saf Hai Rasta Dekho.. { Akele – Gulzar’s Nazm } Kis …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × five =